उपचुनाव में कैप्टन की 'लोकप्रियता और सुखबीर का 'मैनेजमेंट दांव पर

कांग्र्रेस भी इस उप चुनाव के असर को भली भांति जानती है। क्योंकि कांग्र्रेस के लिए पटियाला तो अकाली दल के लिए लंबी के बाद शाहकोट ही ऐसी सीट है जोकि अभेद है।

loading...
from Jagran Hindi News - news:national https://ift.tt/2KQ15Hf

0 comments: