Rochak Jankari #3 भारी वजन तोलने वाले कांटे को "धर्म काँटा" क्यों कहा जाता है? bhari wajan tolne wale kaante ko dharamkaanta kyu kahte hain?

Rochak Jankari #3 भारी वजन तोलने वाले कांटे को "धर्म काँटा" क्यों कहा जाता है? bhari wajan tolne wale kaante ko dharamkaanta kyu kahte hain?

Rochak Jankari #3 भारी वजन तोलने वाले कांटे को "धर्म काँटा" क्यों कहा जाता है? bhari wajan tolne wale kaante ko dharamkaanta kyu kahte hain?
Rochak Jankari #3


Rochak Jankari #3 दोस्तों पुराने ज़माने में माल तोलते वक्त डंडी मारने अथवा बेईमानी से माल को कम तोलकर देना सौदागरों की आम आदत हुआ करती थी, जो की हम आम जिंदगी में देखते हैं अब भी जारी है।


दोस्तों कई इमानदार व्यापारी जो अपना व्यापर ईमानदारी से करते थे वे अपने तोलने वाले तराजू अथवा कांटे को धर्म के अनुसार सही तोलकर देने के कारन उसे धर्म काँटा कहते थे।

आपको तो यह पता ही होगा की पुराने ज़माने में तराजू को काँटा भी कहा जाता था।

Rochak Jankari #3 जब व्यवसायिक हैवी कैपेसिटी की गाड़ियां व ट्रक तोलने वाले प्लेटफार्म बैलेंस भारत में आये तो उनके वजन तोलने की सटीकता बहुत ही अच्छी होती थी, उनकी विशेषता का भरोषा दिलाते हुए किसी व्यवसायिक बुद्धि वाले व्यापारी ने अपने प्लेटफार्म तोल कांटे का नाम धर्म काँटा रख दिया था और बहुत जल्दी ही यह नाम बहुत लोकप्रिय हो गया और आजतक उसको धर्म काँटा ही कहा जाता है।


यदि आपको यह रोचक जानकारी Rochak Jankari #3 भारी वजन तोलने वाले कांटे को "धर्म काँटा" क्यों कहा जाता है? bhari wajan tolne wale kaante ko dharamkaanta kyu kahte hain? पसंद आई  तो कृपया शेयर करना ना भूलें तथा आपके दिमाग में भी कोई ऐसा ही सवाल हो तो हमें अवश्य कमेंट बॉक्स में बताएं, हम आपके सवाल का उत्तर देने की पूरी कोसिस करेंगे, धन्यवाद!



Also Read - (यह भी पढ़ें)



0 comments: