जानिए कैसे होता है कोरोना वाइरस से पीड़ित मरीज का इलाज, चीन के बाद मचाया इन बड़े देशों मे हाहाकार

जानिए कैसे होता है कोरोना वाइरस से पीड़ित मरीज का इलाज, चीन के बाद मचाया इन बड़े देशों मे हाहाकार



कोरोना वायरस के केस लगातार बढ़ रहे हैं, कोरोना वायरस का इलाज नहीं है, लेकिन भारत मे इसके मरीज लगातार ठीक हो रहे हैं। कोरोना वायरस अब इन्सानों से इन्सानों मे फैलने लगा है, यानि सबसे बड़ी चुनौती यही है की इसे फैलने से कैसे रोका जाए?


दोस्तों अभी कोरोना वायरस का टीका नहीं बना है। दुनिया भर के वैज्ञानिक इसके लिए कोशिश कर रहे हैं। कुछ कंपनी ने दवा बना लेने का दावा किया है, लेकिन अभी तक इसकी पुष्टि नहीं हुई है।
दोस्तों अभी कोरोना के मरीज अपने आप ठीक हो रहे हैं। अब तक जो इलाज किया जा रहा है वो सिर्फ इसके लक्षणों का ही है, जैसे बुखार के लिए पेरासिटामोल दी जा रही है, सर्दी जुकाम के लिए दवाएं दी जा रही हैं। आराम करने की सलाह दी जा रही है। 14 दिन तक यह प्रक्रिया दोहराई गई है, इसके बाद एक बार फिर टेस्ट किया गाया, नेगेटिव पाये जाने पर 24 घंटे बाद फिर टेस्ट हुआ और यह भी अगर नेगेटिव रहा तो यह मान लिया जाएगा की मरीज पूरी तरह ठीक हो गया है।


इस घटक महामारी से कैसे खुद को सुरक्षित रखा जा सकता है?



कोरोना के खिलाफ सबसे बड़ा हथियार है बीमारियों से लड़ने की ताकत दरअसल कोरोना वायरस उन लोगों को ज्यादा निशाना बना रहा है, जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता यानि बीमारियों से लड़ने की ताकत कम है। आमतौर पर बुजुर्ग इसका शिकार ज्यादा बन रहे हैं। लोगों को सलाह दी जा रही है की वे स्वस्थ जीवनशैली अपनाएं । डॉक्टर के अनुसार, बीमारियों से लड़ने की ताकत आहार, व्यायाम, उम्र, मानसिक तनाव समेत आँय कारणो पर निर्भर करती है। रोग प्रतिरोधक क्षमता यानि इम्यून सिस्टम को मजबूत रखने के लिए पूरी नींद लें, स्मोकिंग और शराब से दूर रहे, फल और हरी सब्जियों का अधिक से अधिक सेवन करें।


चीन के बाद अब इन बड़े देशों मे अपना कहर बरपा रहा है कोरोना



दोस्तों चीन से शुरू हुए कोरोना वाइरस का कहर बरकरार है। दुनिया भर के लगभग 196 से ज्यादा देश कोरोना की चपेट मे आ गए हैं। चीन के बाद यूरोप मे सबसे ज्यादा कोरोना वायरस का संक्रमण है। वहीं अमेरिका और यूरोप के देशों मे इसलिए कोरोना वायरस की संख्या लगातार बढ़ रही है क्योंकि यूरोप और अमेरिका का तापमान कम होने का कारण भी हो सकता है, कम तापमान होने के कारण ये वायरस ज्यादा फैलता है यही कारण है जिन देशों का तापमान कम है उन देशों मे कोरोना का संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है और मेडिकल मे ज्यादा से ज्यादा मदद नहीं मिलने के कारण बढ़ता जा रहा है।


Also Read - ( यह भी पढ़ें )




Comments

Popular posts from this blog

All Scientific Names In Hindi - वैज्ञानिक नाम हिंदी में